Breaking News

चीन ने आसमान में झंडा गाड़ा; छह महीने बाद, चीनी यात्री धरती पर वापस आए।

 बीजिंग: चीन ने एक बार फिर आसमान में अपना झंडा लहरा दिया है। चीनी अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में 6 महीने तक विशेष मिशन के तहत गुजारने के बाद सकुशल धरती पर वापस लौट आए हैं। चीन के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि है। चीन का शेनझोउ-17 अंतरिक्ष यान देश के अंतरिक्ष स्टेशन पर छह महीने का मिशन पूरा करने वाले तीन अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर मंगलवार को धरती पर लौट आया। तीनों अंतरिक्ष यात्री तांग होंगबो, तांग शेंगजी और जियांग शिनलिन शाम छह बजे से कुछ पहले उत्तरी चीन के भीतरी मंगोलिया स्वायत्त क्षेत्र के गोबी रेगिस्तान में डोंगफेंग स्थल पर उतरे।

तीनों के धरती पर लौटने से चार दिन पहले शेनझोउ-18 मिशन के तहत तीन सदस्यीय टीम अंतरिक्ष स्टेशन पर पहुंची थी। अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से बाहर किए जाने के बाद चीन ने अपना अंतरिक्ष स्टेशन बनाया। इस वर्ष, चीनी स्टेशन के लिए दो कार्गो अंतरिक्ष यान मिशन और दो मानवयुक्त अंतरिक्ष उड़ान मिशन निर्धारित है। चीन के महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष कार्यक्रम का लक्ष्य 2030 तक अंतरिक्ष यात्रियों को चंद्रमा पर भेजना है।

चीन 2023 में करना चाहता है यह बड़ा काम

चीन का सपना 2030 के आसपास चांद पर मानव भेजने के साथ मंगल ग्रह से नमूने वापस लाना और अगले चार वर्षों में तीन चंद्र जांच मिशन लॉन्च करना है। नयी टीम में 43 वर्षीय अनुभवी कमांडर ये गुआंगफू हैं, जिन्होंने 2021 में शेनझोउ-13 मिशन में भाग लिया था। इस टीम में लड़ाकू पायलट 34 वर्षीय ली कांग और 36 वर्षीय ली गुआंगसू भी हैं। वे अंतरिक्ष स्टेशन, तियांगोंग के तीन मॉड्यूल पर लगभग छह महीने बिताएंगे। इस दौरान वे विभिन्न वैज्ञानिक परीक्षण करेंगे और धरती पर छात्रों को विज्ञान की कक्षाएं देंगे।

 

About TSS-Admin

Check Also

राजनयिक को किया तलब,भारत ने फिर लगाई कनाडा की क्लास।

India Summons Canada Envoy: भारत ने कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की मौजूदगी में टोरंटो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *