Breaking News

Earthquake: रातभर में भूकंप के 80 से अधिक झटके, ऐसे ताइवान की धरती कांपती रही

सेंट्रल न्यूज एजेंसी फोकस ताइवान की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को केवल 9 मिनट के भीतर पूर्वी ताइवान में शौफेंग टाउनशिप, हुलिएन काउंटी में पांच बार भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। कहा जा रहा है कि सोमवार की रातभर में करीब 80 बार से ज्यादा भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं।   भूकंपीय गतिविधि शाम 5:08 बजे से 5:17 बजे (स्थानीय समय) के बीच से शुरू हुई जो रातभर चली और लोग दहशत में रहे। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की खबर के मुताबिक सोमवार की रातभर 80 बार से ज्यादा भूकंप के झटके महसूस किए गए।

इतनी रही भूकंप की तीव्रता

ताइवान के पूर्वी तट पर सोमवार शाम 5 बजे से रात 12 बजे के दौरान 80 से ज्यादा बार भूकंप के झटके महसूस किए गए। इनमें सबसे ज्यादा तीव्रता 6.3 और 6 दर्ज की गई। भारतीय समय के मुताबिक भूकंप के दो जोरदार झटके रात 12 बजे के आसपास कुछ ही मिनटों के अंतराल पर आए। ताइवान में उस समय रात के 2:26 और 2:32 बजे थे। ताइवान के मौसम विभाग ने बताया कि भूकंप का केंद्र पूर्वी काउंटी हुलिएन में धरती से 5.5 किलोमीटर नीचे था।

देखें वीडियो

दो इमारतों को पहुंचा नुकसान

भूकंप के कारण हुलिएन इलाके में दो इमारतों को नुकसान पहुंचा है। इनमें एक बिल्डिंग ढह गई है तो वहीं दूसरी सड़क की तरफ झुक गई है। ताइवान के साथ ही जापान, चीन और फिलिपींस में भी हल्के झटके महसूस किए गए। फिलहाल किसी तरह के कोई नुकसान की खबर नहीं है। सीएनए फोकस ताइवान ने एक्स पर पोस्ट किया, “शाम 5:08 बजे से शाम 5:17 बजे (यूटीसी 8) के बीच 9 मिनट में शौफेंग टाउनशिप, हुलिएन काउंटी, पूर्वी ताइवान में पांच बार भूकंप आए।

कुछ दिनों पहले आया था जोरदार भूकंप, चार की हुई थी मौत

बता दें कि दो सप्ताह पहले, ताइवान के पूर्वी तटों पर रिक्टर पैमाने पर 7.4 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप आया था, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई थी और 700 से अधिक अन्य घायल हो गए थे। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे (यूएसजीएस) ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा था, ” भूकंप की प्रारंभिक जानकारी: एम 6.5 – हुआलिएन सिटी, ताइवान से 11 किमी उत्तर पूर्व पर था।”नेशनल फायर एजेंसी ने कहा कि 3 अप्रैल को हुलिएन शहर में आए भूकंप में चार लोगों की मौत हो गई और 700 से अधिक लोग घायल हो गए, जबकि घायलों में से 132 लोग भूकंप के केंद्र के पास हुलिएन काउंटी में हैं।

 

About TSS-Admin

Check Also

‘जिग’, जिम्बाब्वे ने आर्थिक संकट से बचने के लिए बनाया, दुनिया की सबसे नई मुद्रा बन गई।

हरारे: जिम्बाब्वे ने दुनिया की सबसे नई मुद्रा पेश की है। आर्थिक बदहाली से उबरने के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *