Breaking News

महान सिनेमैटोग्राफर गंगू रामसे का निधन, 83 साल की उम्र में हुआ

लोकप्रिय रामसे ब्रदर्स के प्रतिष्ठित सिनेमैटोग्राफर गंगू रामसे का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया है। उनके परिवार ने मीडिया पर एक ऑफिशियल स्टेटमेंट जारी किया था, जिसमें लिखा था ‘हमें बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि रामसे ब्रदर्स में से एक फेमस सिनेमैटोग्राफर, फिल्म निर्माता और एफयू रामसे के दूसरे सबसे बड़े बेटे गंगू रामसे का निधन हो गया। वह हमें इस दुनिया में छोड़कर चले गए।’ पिछले एक महीने से स्वास्थ्य समस्याओं से जूझने के बाद 83 वर्ष की आयु में गंगू रामसे ने दुनिया को अलविदा कह दिया।

गंगू रामसे का हुआ निधन

पिछले 1 महीने से सिनेमैटोग्राफर गंगू रामसे बीमार चल रहे थे। उनका इलाज एक महीने से मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में चल रहा था। गंगू रामसे का शानदार करियर दशकों तक चला, जिसने भारतीय फिल्म इंडस्ट्री पर एक अमिट छाप छोड़ी। उन्होंने रामसे ब्रदर्स के बैनर तले 50 से अधिक हिट फिल्मों में अपना योगदान दिया है, जिसमें ‘वीराना’, ‘पुराना मंदिर’, ‘बंद दरवाजा’, ‘दो गज जमीन के नीचे’, ‘सामरी’, ‘तहखाना’, ‘पुरानी हवेली’ और ऋषि कपूर के साथ ‘खोज’ जैसी क्लासिक फिल्में शामिल हैं।

 

फेमस सिनेमैटोग्राफर थे गंगू रामसे

गंगू रामसे फेमस रामसे ब्रदर्स टीम का हिस्सा थे। 7 भाइयों कुमार रामसे, केशू रामसे, तुलसी रामसे, किरण रामसे, श्याम रामसे, गंगू रामसे और अर्जुन रामसे में गंगू दूसरे बड़े भाई थे। बता दें कि सिनेमैटोग्राफर गंगू रामसे फिल्ममेकर एफ.यू. रामसे के बेटे थे। इस टीम की पहली फिल्म ‘दो गज जमीन के नीचे’ थी जो साल 1972 में रिलीज हुई थी। फिल्मों के अलावा रामसे ब्रदर्स जी हॉरर शो बनाकर भी काफी चर्चा में रहे थे।

गंगू रामसे की हिट हॉरर फिल्में

सिनेमैटोग्राफर गंगू अपनी हिट हॉरर फिल्मों के लिए भी जाने जाते थे। ‘वीराना’, ‘पुराना मंदिर’, ‘बंद दरवाजा’ और ‘पुरानी हवेली’ जैसी कई हॉरर फिल्में इस लिस्ट में शामिल हैं। उनका शो ‘द जी हॉरर शो’ काफी चर्चा में रहा था। यह शो साल 1993 से 2001 तक 8 साल चला था।

About TSS-Admin

Check Also

Esha Deol ने धर्मेंद्र-हेमा मालिनी की शादी को 44 साल बाद मां-पापा की तस्वीर शेयर की

हेमा मालिनी और धर्मेंद्र आज, 2 मई 2024 को अपनी शादी के 44 साल पूरे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *