Breaking News

Moradabad: साहित्यकारों ने नवगीत के संस्थापक माहेश्वर तिवारी के निधन पर शोक व्यक्त किया।

 

यश भारती से पुरस्कृत वरिष्ठ नवगीतकार माहेश्वर तिवारी का निधन हो गया है। पिछले कई दिनों से वह अस्वस्थ चल रहे थे। मंगलवार सुबह गौर ग्रेसियस स्थित अपने आवास पर उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन पर मुरादाबाद व देशभर के साहित्यकारों ने दुख जताया है।

साहित्यकारों का कहना है कि दादा माहेश्वर तिवारी का गीत ‘एक तुम्हारा होना क्या से क्या कर देता है’। नवगीत का हस्ताक्षर बन गया था। कुमार विश्वास जैसे सुप्रसिद्ध कवि उन्हें सम्मान देते हैं। उनके आवास पर नवगीतकार योगेंद्र वर्मा, कृष्ण कुमार नाज़, मनोज रस्तोगी,  राजीव प्रखर, हेमा तिवारी भट्ट आदि साहित्यकार पहुंचे हैं।

About TSS-Admin

Check Also

अपनी समस्याओं को लेकर,जनपद न्यायालयकर्मी आंदोलित

जनपद न्यायालय कर्मचारी लंबे समय से अपनी मांगों को विभिन्न सक्षम प्राधिकारियों के समक्ष अपनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *