Breaking News

रूस ने अमेरिका की इस कार्रवाई पर हमला करते हुए कहा कि “यूक्रेन तबाह हो जाएगा।”

कीव: रूस और यूक्रेन के बीच जंग जारी है। जंग को शुरू हुए 2 साल से भी अधिक का समय बीत चुका है और इसके थमने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। अब चिंता की बात यह है कि रूस एक बार फिर भड़क गया है। रूस इस वजह से भड़का है क्योंकि यूक्रेन और पश्चिमी देशों के नेताओं ने अमेरिकी संसद की प्रतिनिधि सभा से पारित सहायता पैकेज की सराहना की है। इसे लेकर रूस ने आगाह करते हुए कहा है कि विधेयक को मंजूरी मिलने के बाद यूक्रेन “और तबाह” होगा साथ ही और ज्यादा मौतें होंगी।

 95 अरब अमेरिकी डॉलर की सहायता 

दरअसल, अमेरिकी संसद की प्रतिनिधि सभा ने हाल ही में विशेष सत्र के दौरान अमेरिका के सहयोगी देशों यूक्रेन, इजराइल समेत अन्य के लिए 95 अरब अमेरिकी डॉलर की विदेशी सहायता को तत्काल मंजूरी दे दी थी। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा था कि वो फैसले के लिए अमेरिकी सांसदों के आभारी हैं। इससे पहले उन्होंने आगाह किया था कि अमेरिकी सहायता के बिना यूक्रेन युद्ध हार जाएगा।

जेलेंस्की ने क्या कहा?

जेलेंस्की ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, “हम अपने देश, इसकी स्वतंत्रता और लोगों को मिले हर तरह के समर्थन की सराहना करते हैं, जिसे रूस मलबे के नीचे दफन करने का प्रयास कर रहा है।” उन्होंने कहा, “अमेरिका ने युद्ध के पहले दिन से ही अपना नेतृत्व प्रदर्शित किया है। नियमों पर आधारित व्यवस्था कायम करने के लिए बिल्कुल इसी तरह के नेतृत्व की जरूरत है।”

नाटो महासचिव का रिएक्शन 

यूक्रेन अलावा अन्य पश्चिमी देशों और उनसे जुड़े संगठनों ने भी अमेरिकी सहायता पैकेज की सराहना की है। उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के महासचिव जेंस स्टॉलटनबर्ग ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, “यूक्रेन रूसी युद्ध क्षमताओं को नष्ट करने के लिए नाटो सहयोगियों की ओर से उपलब्ध कराए गए हथियारों का उपयोग कर रहा है। इससे यूरोप और इसमें आने वाले सभी सुरक्षित हैं।”

‘बर्बाद हो जाएगा यूक्रेन’

रूस में राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने यूक्रेन के लिए सहायता को मंजूरी दिए जाने को “अपेक्षित” बताया। रूसी समाचार एजेंसी ‘आरआईए नोवोस्ती’ ने पेस्कोव के हवाले से कहा, “यह निर्णय अमेरिका को और अधिक अमीर बना देगा, यूक्रेन को और बर्बाद करेगा और इसके परिणामस्वरूप और भी अधिक यूक्रेनी नागरिक मारे जाएंगे।”

 

About TSS-Admin

Check Also

‘जिग’, जिम्बाब्वे ने आर्थिक संकट से बचने के लिए बनाया, दुनिया की सबसे नई मुद्रा बन गई।

हरारे: जिम्बाब्वे ने दुनिया की सबसे नई मुद्रा पेश की है। आर्थिक बदहाली से उबरने के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *