Breaking News

कोर्ट आज फैसला करेगा कि जेल में बंद केजरीवाल को वीआईपी देखरेख मिलेगी या तिहाड़ के डॉक्टर ही देखरेख करेंगे!

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की याचिका पर राउस एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई होनी है। केजरीवाल ने याचिका दायर कर रोज सुगर लेवल की जांच कराने और निजी डॉक्टर से परामर्श लेने की अमुमति मांगी है। केजरीवाल ने कहा था कि ईडी हिरासत के दौरान उनका सुगर लेवल गिरकर 46 तक पहुंच गया था। ऐसे में जरूरी है कि रोज उनके सुगर लेवल की जांच हो। इस मामले पर जवाब दाखिल करने के लिए ईडी के वकील ने समय मांगा था। 16 अप्रैल को सुनवाई के बाद कोर्ट ने 18 अप्रैल को दोपहर दो बजे सुनवाई का समय तय किया था।

दिल्ली की विवादित शराब नीति चलते जेल में बंद अरविंद केजरीवाल ने अपने स्वास्थ्य का हवाला देकर रोज सुगर की जांच कराने की अमुमति मांगी है। इसके साथ ही उनकी मांग है कि उन्हें उसी डॉक्टर से परामर्श लेने की अनुमति दी जाए, जिससे वह पहले ले रहे थे। हालांकि, डॉक्टर से परामर्श के लिए केजरीवाल ने हफ्ते में तीन मांगे हैं और यह परामर्श वर्चुअल होगा।

ईडी के वकील ने मांगा था समय

केजरीवाल की याचिका पर जवाब देने के लिए ईडी के वकील ने अदालत ने समय मांगा था और अदालत ने उन्हें दो दिन का समय दिया। ईडी के वकील का कहना है कि डॉक्टर तो तिहाड़ जेल में भी हैं। केजरीवाल उन्हीं डॉक्टरों से अपने सुगर लेवल की जांच करा सकते हैं। ईडी की मांग पर अरविंद केजरीवाल की न्यायिक हिरासत 23 अप्रैल तक बढ़ा दी गई थी। ईडी ने केजरीवाल को 21 मार्च को गिरफ्तार किया था।

क्यों गिरफ्तार हुए केजरीवाल?

अरविंद केजरीवाल की सरकार ने दिल्ली के लिए नई शराब नीति बनाई थी। इसमें घोटाला होने का आरोप है। इस मामले में मनीष सिसोदिया, संजय सिंह और के कविता सहित कई नेता जेल जा चुके हैं। पूछताछ के लिए ईडी ने अरविंद केजरीवाल को 9 समन भेजे थे। हालांकि, केजरीवाल इनमें से किसी भी समन पर पेश नहीं हुए। इसके बाद उन्हें 21 मार्च को गिरफ्तार कर लिया गया था।

About TSS-Admin

Check Also

रायबरेली से राहुल उम्मीदवार, उत्तर प्रदेश में जागी उम्मीदे हजार , भाजपा की तीन चरणों की हार सातों में रहेगी बरकरार।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता अभय दुबे ने जारी बयान में कहा कि उत्तर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *